कांग्रेस सहित 16 पार्टियां करेंगी राष्ट्रपति के अभिभाषण का बॉयकॉट

चिरौरी न्यूज़

नई दिल्ली: 29 जनवरी से शुरू हो रहा संसद का बजट सत्र के पहले दिन राष्ट्रपति संसद के दोनों सदन को संबोधित करेंगे लेकिन कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने यह जानकारी दी है कि विपक्ष की 16 पार्टियां राष्ट्रपति के अभिभाषण का बहिष्कार करेंगी।

गुलाम नबी आजाद ने बताया कि राष्ट्रपति के अभिभाषण का बॉयकॉट करने का कारण कृषि बिल को दबाव बनाकर पास करवाना है वह भी विपक्ष की अनुपस्थिति में। राज्यसभा में विपक्ष के नेता ने कहा, ‘हम 16 राजनीतिक पार्टियों से बयान जारी कर रहे हैं कि संसद में राष्ट्रपति के अभिभाषण का बहिष्कार करेंगे।’

किसानों के समर्थन में राष्ट्रपति के अभिभाषण का विरोध करने वाली पार्टियां कांग्रेस (Congress), NCP, शिवसेना (Shiv Sena), AITC, DMK, JKNC, SP, RJD, CPI(M), CPI, IUML, RSP, PDP, MDMK, केरल कांग्रेस (Kerala Congress) और AIUDF है।

बता दें कि कल से संसद का बजट सत्र शुरू हो रहा है, पहले दिन राष्ट्रपति का अभिभाषण होगा और देश का आर्थिक सर्वेक्षण भी पेश किया जायेगा। 30 को सर्वदलीय बैठक बुलायी गयी है, जिसमें संसद की कार्यवाही को सुचारु रूप से चलाने के लिए सहमति बनाने का प्रयास किया जायेगा। देश का बजट एक फरवरी को पेश किया जायेगा। संसद के बजट सत्र इस बार हंगामेदार होने की पूरी संभावना है क्योंकि देश में किसानों का आंदोलन चल रहा है और विपक्ष सरकार के रवैये से खुश नहीं है, इसलिए वे किसानों के मुद्दे को सदन में पूरे जोर-शोर से उठायेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.