दुनिया बदलती महिलाओं के मूवमेंट के सम्मान में शुरू किया गया एडिडास का ‘वाच अस मूव’ कैम्पेन

चिरौरी न्यूज़

नई दिल्ली: समाज में महिलाओं को खास स्थान दिलाने की प्रतिबद्धता के साथ खेल जगत के दिग्गज ब्राण्ड एडिडास ने ‘वाच अस मूव’ कैम्पेन आरंभ किया है। यह महिलाओं के सम्मान और उनके मूव करने की आजादी के जश्न की तरह है।

कैम्पेन के जरिये एडिडास ने एक बार फिर दृढ़ विश्वास व्यक्त किया है कि खेल की तरह जिसमें शरीर के आकार से फर्क नहीं पड़ता हमारे समाज को भी खूबसूरती के स्तर को अहमियत देने से ऊपर उठना है। एडिडास के अनुसार महत्वपूर्ण यह है कि हम लोगों की आकांक्षाओं, परिश्रम, स्टैमिना, इच्छा शक्ति और इस दायरे में आने वाले सभी पहलुओं पर बिना किसी भेदभाव ध्यान दें। खेल जात-पात, सामाजिक-आर्थिक स्थिति, शारीरिक और मानसिक बाधाओं से ऊपर है। ‘वाच अस मूव’ कैम्पेन के जरिये ब्राण्ड एडिडास महिलाओं के सकारात्मक विद्रोह के साथ मूव करने का सम्मान करता है जिसे चारों ओर बदलाव का माहौल बन रह है।

कैम्पेन के शुभारंभ पर मानुषी छिल्लड़, दीपिका पल्लीकाल और निखत जरीन को एक साथ उनकी बात कहने का मौका मिला कि उन्होंने किस तरह परफेक्शन को लेकर दाकियानुसी सोच बदल कर अविश्वसनीय सफर की शुरुआत की और खुद को पूरे देश की लड़कियों का रोल माॅडल बनाया।

शुभारंभ में उपस्थित सुनील गुप्ता, वरिष्ठ निदेशक, ब्राण्ड एडिडास, भारत ने कहा, ‘‘वाच अस मूव’ महिलाओं के मूवमेंट के माध्यम से निजी अभिव्यक्ति की आजादी को बढ़ावा देता है। हर महिला की मूवमेंट, प्रगति के स्वरूप को लेकर निजी परिभाषा है। वे एक्शन ले रही हैं, खुद का रास्ता बना रही हैं। फिर भी बहुत-से लोग उन्हें क्या करना है, कैसे संवरना है और कौन बनना है यह बताने से बाज नहीं आते। ‘वाच अस मूव’ कैम्पेन शुरू कर एडिडास ने लोगों की अपेक्षाओं की इन बेड़ियों को तोड़ दिया है और महिलाओं को 100 प्रतिशत समर्थन देता है कि वे मूव करें जिस तरह दुनिया चलाती आई हैं।

शुभारंभ के अवसर पर, मिस वल्र्ड 2017, मानुषी छिल्लर ने कहा, ‘‘महिला खिलाड़ियों, जो बहुत ही प्रेरणादायक हैं, के एडिडास के शक्तिशाली रोस्टर का हिस्सा बनने पर मैं बहुत खुश महसूस करती हूं। ‘वाॅच अस मूव’ महिलाओं, उनकी उपलब्धियों की सराहना करता है और हमें जीवन के प्रति सकारात्मक सोच रखने के लिए बढ़ावा देता है। यह इस बात की प्रशंसा करता है कि स्त्री होना हर तरह से, हर रूप और हर स्थिति में शक्तिदायक है। मैं इस मंच के माध्यम से कहना चाहती हूं कि हम अभी के अभी मूव के लिए तैयार हैं, पहले से ज्यादा, दुनिया के लिए ‘वाॅच अस मूव’ का यही समय है।’’

मानुषी के स्वर में स्वर मिलाते हुए, भारतीय स्क्वैश खिलाड़ी दीपिका पल्लिकल ने कहा, ‘‘वाॅच अस मूव सभी महिलाओं के लिए एक आह्वान है कि अपने हौसले और प्रचंड विश्वास के साथ वे एक दूसरी को बदलाव की राह पर ले चलें। इस अभियान के माध्यम से, मैं महिलाओं से अपील करती हूं कि वे खुद को अधिक से अधिक निडर होकर बाहर लाएं और आगे बढ़ें, इस अभियान का लाभ उठाएं, देखें कि यह उनके शरीर व मन के संपूर्ण कल्याण के लिए क्या-क्या चमत्कार कर सकता है।’’

कैम्पेन के तहत एडिडास एक से बढ़कर एक नए-नए उत्पाद बाजार में पेश कर रहा है, जो पूरे वर्ष खेल और उसमें संभावनाओं तक पहुंच की महिलाओं की जरूरतों को दर्शाते हैं। अभियान को एडिडास के ऐक्टिवेयर के सबसे ज्यादा बिकने वाले रेंज – फाॅर्मोशन – के आगमन तक रोका गया है, एक संग्रह, जिसे आरामदेह ताने-बाने के साथ-साथ ज्यादा से ज्यादा आराम को ध्यान में रखते हुए महिलाओं के लिए कपड़े तैयार करने वाले कारीगरों की एक टीम ने तैयार किया है, जो कार्य करते समय शरीर के साथ बिना रुके काम करता है। फाॅर्मोशन आजादी और अभिव्यक्ति का सम्मान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.