जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों से मुठभेड़ में कर्नल सहित पांच जवान शहीद, 2 आतंकवादी भी मारे गए

न्यूज़ डेस्क

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के हंदवाड़ा क्षेत्र में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में कर्नल और मेजर समेत भारतीय सेना के चार जवान शहीद हो गए हैं। सेना ने हंदवाड़ा में चल रही इस मुठभेड़ में दो आतंकी मार गिराए गए हैं। जानकारी के अनुसार जम्मू-कश्मीर पुलिस का एक जवान भी इस में शहीद हो गया है।  बताया जा रहा है कि सेना ने आतंकवादियों द्वारा बंधक बनाए गए नागरिकों को बचाने के लिए अभियान चलाया, जिसमे सेना के कर्नल और मेजर सहित चार जवान शहीद हो गए।  शहीद हुए सैन्य अफसर सुरक्षाकर्मियों की टीम का नेतृत्व कर रहे थे।

सेना को हंदवाड़ा में आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिलने के बाद ये ऑपरेशन चलाया गया। इस दौरान छिपे हुए आतंकियों ने फायरिंग की, जिसमें 21 राष्ट्रीय रायफल्स के कर्नल, मेजर और दो जवान शहीद हो गए। जम्मू-कश्मीर पुलिस के एक सब-इंस्पेक्टर भी मुठभेड़ में शहीद हुए हैं। शहीद जवानों में 21 राष्ट्रीय रायफल्स के कर्नल आशुतोष, मेजर अनुज सूद, नायक राजेश और लांस नायक दिनेश शामिल हैं। कर्नल आशुतोष को कश्मीर में बहादुरी के लिए दो बार वीरता पदक मिल चुका था। कश्मीर में जांबाजी दिखाने वाले श्रेष्ठ कमांडिंग ऑफिसर्स में उनकी गिनती होती थी।

बताया जा रहा है कि शुक्रवार रात आतंकियों और जवानों के बीच संक्षिप्त मुठभेड़ भी हुई, लेकिन आतंकी घेराबंदी तोड़ भाग निकले। सेना के जवानों ने शनिवार दोपहर को छंजमुला गांव में फिर से आतंकियों को घेर लिया, और मुठभेड़ शुरू हुई। करीब दो घंटे के बाद आतंकियों की तरफ से गोलीबारी बंद हो गई। करीब एक घंटे तक आतंकियों की तरफ से जब कोई गोली नहीं चली तो उन्हें मरा समझकर अधिकारियों व जवानों ने मुठभेड़स्थल की तलाशी शुरू कर दी। तभी आतंकियों ने फिर से फायरिंग शुरू कर दी। इससे मुठभेड़ दोबारा शुरू हो गई और मकान में घुसे पांचों जवानों से भी संपर्क टूट गया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.