रायगढ़ की पेपर मिल में गैस रिसाव, तीन मजदूरों की हालत नाजुक

न्यूज़ डेस्क

नई दिल्ली: विशाखापट्टनम में गैस रिसाव की घटना के बाद अब छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले से एक बेहद डराने वाली खबर आ रही है। रायगढ़ के एक पेपर मिल में गैस रिसाव हो गया, जिससे वहां काम कर रहे 7 मजदूर उसकी चपेट में आ गए। रायगढ़ पुलिस के अनुसार, ये सभी मिल में स्थित टैंक को साफ कर रहे थे, तभी अचानक गैस लीक हो गई और ये वहां से निकलने में नाकाम रहे। सभी मजदूरों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहाँ तीन मजदूरों की हालत काफी नाजुक हैं।

रायगढ़ पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार पुसौर के तेतला गांव में स्थित शक्ति पेपर मिल में गैस लीक हादसे की जानकारी मिली। बताया जा रहा है कि सभी मजदूर टैंक साफ़ कर रहे थे, तभी गैस का रिसाव हो गया और मजदूर बेहोश होने लगे। कुछ लोगों ने भागकर अपनी जान बचायी, बाद में कुछ लोगों की मदद से टैंक के अंदर फंसे मजदूरों को निकला गया और उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, जहाँ तीन की हालत नाजुक बताई जा रही है और उन्हें बेहतर उपचार के लिए रायपुर रेफर कर दिया गया है। अन्य चार की स्थिति खतरे से बाहर बताई जा रही है। घायलों का हाल जानने के लिए रायगढ़ के कलेक्टर और एसपी भी अस्पताल पहुंचे। उन्होंने घायलों के परिवार वालों से मुलाकात की है। मिल के संचालक का नाम दीपक गुप्ता बताया गया है। प्रारंभिक जांच में यहां क्लोरिन गैस के लीक होने की बात सामने आ रही है। पेपर मिल में क्लोरीन गैस का उपयोग इंक की सफाई के लिए किया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.