रेड्डी और प्रतीक ने आलराउंड प्रदर्शन कर अपनी-अपनी टीमों को खो खो चैम्पियनशिप के सेमीफाइनल में पहुंचाया

चिरौरी न्यूज़

नई दिल्ली: आंध्र प्रदेश के ए। सिल्वा नेगी रेड्डी और पश्चिम बंगाल के अविक सिंघा के शानदार प्रदर्शन के बूते जगुआर्स ने अपने अंतिम पूल मैच में निंजाज के खिलाफ चार अंक हासिल करते हुए केकेएफआई के 2021 सुपर खो खो टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में जगह बना ली है।

यहां इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में जारी इस टूर्नामेंट में रेड्डी ने जहां आलराउंड प्रदर्शन कर अपनी टीम को अंतिम-4 में जगह दिलाई वहीं सिंघा ने डिफेंस में अपना बेहतरीन योगदान दिया। रेड्डी ने डिफेंस के दौरान मैट पर दो मिनट 35 सेकेंड बिताए और फिर चेज करते हुए अपनी टीम के लिए दो महत्वपूर्ण अंक हासिल किए। सिंघा ने भी डिफेंस में अहम योगदान दिया और तीन मिनट पांच सेकेंड मैट पर बिताए।

पूल-ए से चीताज ने भी टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। इस टूर्नामेंट का आयोजन केकेएफआई और अल्टीमेट खो खो द्वारा किया जा रहा है। टूर्नामेंट के आयोजन का मकसद अब तक के पहले साइंटिफिक नेशनल कैम्प के बाद खिलाड़ियों की शारीरिक और मानसिक दक्षता का आकलन करना है। पूल-बी से पहाड़ी बिल्लाज और पैंथर्स ने सेमीफाइनल में जगह बनाई।

इससे पहले पूल-बी के मुकाबले में पहाड़ी बिल्लाज ने शार्क्स के खिलाफ 20 अंकों के बड़े अंतर से जीत हासिल की। महेश शिंदे और कप्तान प्रतीक वैकार ने अपनी टीम को मिली 50-30 की जीत में अहम भूमिका निभाई। दोनों ने शानदार आलराउंड प्रदर्शन किया। शिंदे ने जहां डिफेंस करते हुए एक मिनट 20 सेकेंड मैट पर बितो और चेज के दौरान 10 अंक हासिल किए वहीं कप्तान वजीर वैकार ने डिफेंस के दौरान एक मिनट 50 सेकेंड मैट पर बिताए और फिर चेज करते हुए अपनी टीम के लिए आठ अंक जुटाए।

इस बीच, महिलाओं के टूर्नामेंट में पैंथर्स ने अपना विजयी अभियान जारी रखते हुए चीताज पर लगातार तीसरी जीत दर्ज की। हरियाणा की बिंदू ने चेज में 10 अंक हासिल किए और पैंथर्स ने यह मैच 34-32 से जीत लिया। इस जीत के साथ, पैंथर्स ने टूर्नामेंट का खिताब 3-0 की अजेय बढ़त के साथ अपने नाम कर लिया। अभी उसे हालांकि एक और मैच खेलना है।

इस टूर्नामेंट का आयोजन पहले साइंटिफिक ट्रेनिग कैम्प के बाद इवैलुएशन प्रक्रिया के तह केकेएफआई और अल्टीमेट खो खो (यूकेके) द्वारा किया जा रहा है। टूर्नामेंट के अंतिम दिन सोमवार को सेमीफाइनल और फाइनल मुकाबले खेले जाएंगे। विजेता टीम को 2 लाख रुपये का पुरस्कार प्राप्त होगा, जबकि उपविजेता को 1।5 लाख रुपये मिलेंगे। तीसरे और चौथे स्थान पर आने वाली टीमों को 50-50 रुपये मिलेंगे। महिला टीमों को 30-30 हजार रुपये मिलेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.