महिला फुटबाल को गंभीरता से लें: खेल मंत्री

चिरौरी न्यूज़

नई दिल्ली: महिला दिवस के मौके पर आज यहां राजधानी के जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम में खेल मंत्री किरण रिजिजू ने स्कूली टीमों की बालिका खिलाड़ियों को गंभीरता से फुटबाल खेलने और आगे बढ़ने का आह्वान किया। दिल्ली साकर एसोसिएशन (फुटबाल दिल्ली) द्वारा आयोजित कार्यक्रम में सैकड़ों खिलाड़ी, कोच और अधिकारी मौजूद थे।

खेल मंत्री के साथ दिल्ली फुटबाल के अध्यक्ष शाजी प्रभाकरन और पूर्व अन्तरराष्ट्रीय खिलाड़ी बाई चुंग भूटिया भी मौजूद थे। श्री रिजिजू ने बालिकाओं से कहा कि फुटबाल का खेल दुनिया का सबसे लोकप्रिय खेल है , जिसमें महिला खिलाड़ी भी बड़ी संख्या में भाग ले रही हैं।

उन्होंने फुटबाल दिल्ली के अध्यक्ष शाजी के प्रयासों को सराहा और कहा कि वह महिला फुटबाल के लिए शानदार काम कर रहे हैं। यदि किसी भी खिलाड़ी को किसी प्रकार की जरूरत है तो वह शाजी से मिल कर अपनी समस्या मंत्रालय तक पहुंचा सकती है।

खेल मंत्री द्वारा उपस्थित सभी लड़कियों को एक एक फुटबाल देकर प्रोत्साहित किया गया। उन्होंने माना कि भारतीय महिला फुटबाल को लंबा सफर तय करना है लेकिन अंडर 17 महिला विश्वकप के आयोजन को वह भारतीय महिला फुटबाल के लिए वरदान मानते हैं। अंडर 17 पुरुष विश्व कप के बाद अब भारत में महिला कप का आयोजन किया जाना है।

इस अवसर पर शाजी प्रभाकरण ने खेल मंत्री के सहयोगी रवैये को सराहा और कहा कि दिल्ली की महिला फुटबाल को बढ़ावा देने के लिए स्कूल स्तर पर प्रोत्साहन जरूरी है। खासकर, 8-10 साल की खिलाड़ियों को खोजने और उन्हें ट्रेंड करने की जरूरत है। उन्होंने स्थानीय इकाई और सभी क्लबों को निर्देश दिए हैं कि वे अपनी अपनी महिला टीमों पर भी बराबर ध्यान दें।

शाजी मानते हैं कि पिछले कुछ सालों में भारतीय फुटबाल में महिलाओं की भागीदारी बढ़ रही है, जोकि महिला शक्ति और उनकी जागरूकता का प्रमाण है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.