भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में बांग्लादेश ‘कंट्री इन फोकस’ देश होगा

चिरौरी न्यूज़

नई दिल्ली: भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव ने इस बार के ‘कंट्री इन फोकस’ खंड की घोषणा कल की है। इसमें 51वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में जो देश केंद्र में होगा, वो है – बांग्लादेश। ‘कंट्री इन फोकस’ एक विशेष खंड है जो संबंधित देश की सिनेमाई उत्कृष्टता और योगदान को मान्यता देता है। 51वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में ये खंड चार फिल्मों का प्रदर्शन करेगा:

  1. जिबोंधुली– डायरेक्टर तनवीर मोकामेल
  2. मेघमल्लार– डायरेक्टर ज़ाहिदुर रहमान अंजान
  3. अंडर कंस्ट्रक्शन– डायरेक्टर रुबाइयत हुसैन
  4. सिन्सियरली योर्सढाका– डायरेक्टर नुहाश हुमायूं, सैयद अहमद शौकी, राहत रहमान जॉय, एमडी रोबीउल आलम, गोलम किब्रिया फारूकी, मीर मुकर्रम हुसैन, तनवीर अहसान, महमूदुल इस्लाम, अब्दुल्ला अल नूर, कृष्णेंदु चट्टोपाध्याय, सैयद सालेह अहमद सोभान

भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव के बारे में:

1952 में स्थापित किया गया भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (आईएफएफआई),एशिया के सबसे महत्वपूर्ण फिल्म समारोहों में से एक है। सालाना आयोजित होने वाला ये महोत्सव वर्तमान में गोवा में होता है। इस महोत्सव का उद्देश्य सारी दुनिया के सिनेमा के लिए एक समान मंच मुहैया करवाना है ताकि फिल्म कला की उत्कृष्टता को प्रस्तुत किया जा सके, अलग अलग देशों के सामाजिक और सांस्कृतिक लोकाचार के संदर्भ में इन देशों की फिल्म संस्कृतियों की समझ और सराहना में योगदान देना, और दुनिया के लोगों के बीच दोस्ती और सहयोग को बढ़ावा देना है। इस महोत्सव का संचालन फिल्म समारोह निदेशालय (सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के अंतर्गत) और गोवा सरकार के संयुक्त तत्वावधान में किया जाता है।

इस महोत्सव का 51वां संस्करण 16 से 24 जनवरी, 2021 तक आयोजित किया जा रहा है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.