बंगाल चुनाव: संयुक्त मोर्चा बनी और टूट गयी, अब  सिद्दीकी उतारेंगे कांग्रेस के खिलाफ कैंडिडेट

चिरौरी न्यूज़

कोलकाता: बंगाल चुनाव को लेकर कांग्रेस, वाममोर्चा और इंडियन सेकुलर फ्रंट ने ब्रिगेड मैदान की रैली में संयुक्त मोर्चा बनाने की बात कि थी जो बीजेपी और तृणमूल कांग्रेस के खिलाफ अपने कैंडिडेट उतारती, लेकिन बनने के 24 घंटे भी नहीं बीते होंगे कि मोर्चा में टूट हो गयी। अब इंडियन सेकुलर फ्रंट के पीरजादा अब्बास सिद्दीकी ने कांग्रेस के खिलाफ कैंडिडेट उतारने की बात कही है।

सिद्दीकी ने कहा है कि हम उन सीटों पर उम्मीदवार उतारेंगे, जो हमारी मांग में शामिल है। सिद्दीकी मुख्य रूप से कांग्रेस के खिलाफ अपने कैंडिडेट उतारना चाहते है जो कि संयुक्त मोर्चा के अहम घटक है। अब सिद्दीकी के बयान के बाद सियासी हलचल तेज हो गई है।

इस से पहले कांग्रेस के राज्यसभा सांसद प्रदीप भट्टाचार्य ने सिद्दकी की पार्टी को सीट नहीं देने की बात कही है। भट्टाचार्य ने कहा कि लेफ्ट गठबंधन से हमें खुद 92 सीट मिली है। ऐसे में हम किसी को सीट नहीं दे पाएंगे।

एक न्यूज़ चैनल से बातचीत करते हुए सिद्दीकी ने कहा कि पश्चिम बंगाल में हम लेफ्ट के साथ गठबंधन में है। मैं उन सीटों पर उम्मीदवार नहीं उतारूंगा, जिनपर लेफ्ट के कैंडिडेट होंगे। पीरजादा ने आगे कहा कि मैं इसके अलावा सभी सीटों पर आईएसएफ का प्रत्याशी खड़ा करूंगा। सिद्दीकी ने कांग्रेस को रैली के मच से ही धमकी भरे शब्दों से आगाह किया था कि वह जल्द ही किसी निर्णय पर पहुंचे। सिद्दकी के भाषण के बाद मंच पर ही उनके समर्थकों ने कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी का हूटिंग भी कर दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.