परमाणु ऊर्जा विभाग ने मुजफ्फरपुर बिहार में 100 बिस्तरों वाले अस्पताल की स्वीकृति दी: डॉ. जितेन्द्र सिंह

चिरौरी न्यूज़

नई दिल्ली: केन्द्रीय पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. जितेन्द्र सिंह ने कहा है कि परमाणु ऊर्जा विभाग ने मुजफ्फरपुर बिहार में 100 बिस्तरों वाले अस्पताल की स्वीकृति दी है। राज्यसभा में आज एक प्रश्न के लिखित उत्तर में उन्होंने कहा कि इस परियोजना पर लगभग 198 करोड़ रूपये खर्च होंगे।

बिहार सरकार ने बिहार में मुजफ्फरपुर के श्री कृष्ण मेडिकल कॉलेज में 15 एकड़ भूमि परमाणु ऊर्जा विभाग (डीएई)/ टाटा मेमोरियल सेंटर(टीएमसी) को स्थानांतरित की थी।

इसके अलावा कॉर्पोरेट सोसियल रिस्पॉन्सिबिलिटी (सीएसआर) और दान में मिली राशि से एक 50 बिस्तरों वाला अस्पताल इस वर्ष पहली फरवरी से खुल गया है। इस अस्पताल में निम्नलिखित सुविधाओं के साथ टाटा मेमोरियल सेंटर के चिकित्सक अपनी सेवाएं दे रहे हैं;

क. ऑन्कोलॉजी ओपीडी

ख. कीमोथेरेपी के लिए दिन में देखभाल

ग. कैंसर शल्यचिकित्सा

घ. प्रिवेंटिव ऑन्कोलॉजी

च. पैलिएटिव केयर

छ. टेलीमेडिसिन

मंत्री ने बताया कि टीएमसी ने बिहार के लिए पहली जनसंख्या आधारित कैंसर रजिस्ट्री खोली है। टीएमसी ने बिहार सरकार के सहयोग से राज्य के 15 जिलों में कैंसर जागरूकता और जांच शिविरों का भी आयोजन किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.