नवरीत की अंतिम अरदास में शामिल हुई प्रियंका गांधी; कहा, आन्दोलनकारी को आतंकी कहती है यह सरकार

चिरौरी न्यूज़

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली के दौरान हुए दुर्घटना में मारे गए नवरीत की अंतिम अरदास में शामिल होने रामपुर पहुंचीं जहाँ उन्होंने मृतक के परिवारजनों से मुलाकात के बाद कहा कि आंदोलन करने वाले लोगों को यह सरकार आंतकी बताती है।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने बिना नाम लिए मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि मौजूदा दौर में किसानों पर सबसे ज्यादा जुल्म हो रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार किसान कानून को वापस नहीं लेना चाहती है लेकिन सरकार को नहीं पता कि इस आंदोलन से किसानों की कितनी क्षति हो रही है। उन्होंने कहा कि सरकार के नुमाइंदे मौजूदा दौर में शहीदों को आतंकी बताते हैं और किसान आंदोलन को अपने खिलाफ साजिश के रूप में देखते हैं। सरकार किसानों पर बहुत बड़ा जुल्म कर रही है। अगर कोई नेता हमारी बात नहीं सुन रहा है तो वह किसी के काम का नहीं है।

प्रियंका ने कहा कि हमें उम्मीद थी कि किसानों के लिए इस सरकार के दरवाजे खुलेंगे और सुनवाई होगी लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ। अगर कोई नेता गरीबों की आवाज को नहीं सुन सकता है तो वह हमारा नेता नहीं है। उन्होंने कृषि कानून वापस लेने की मांग को दोहराते हुए कहा कि किसानों का आंदोलन सच्चा आंदोलन है। यह आंदोलन राजनीति से प्रेरित नहीं है।

बता दें कि नवरीत किसानों की ट्रैक्टर रैली में भाग लेने के लिए दिल्ली पहुंचा था जहाँ उसकी मौत ट्रैक्टर रैली के दौरान हो गई थी। कांग्रेस की नेता प्रियंका गाँधी नवरीत की अंतिम अरदास में शामिल होने के लिए आज रामपुर पहुंची थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.