प्रधानमंत्री जी गलती भी करेंगे और फिर माफी भी मांगेंगे: हेमंत सोरेन

शिवानी रजवारिया

नई दिल्ली: कोरोना वायरस से बेहाल जिंदगी लॉकडॉउन की मार झेल रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर पूरे देश को संबोधित करने जा रहे हैं। जब-जब पीएम मोदी राष्ट्रवासियों को सम्बोधित करते हैं तो लोगो के बीच एक उत्साह देखने को मिलता है, भाषण से पूर्व ही लोग इंतजार करने लगते हैं उस वक्त का जिस वक्त पीएम सबके सम्मुख आएंगे और अपनी बात रखेंगे। अभी जब पूरा देश लॉकडाउन में है तो खासकर लॉकडाउन को लेकर लोगों के मन में बहुत से सवाल घर कर रहे हैं। कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन का तीसरा चरण चल रहा है जोकि 17 मई को खत्म हो जाएगा।

सभी को शाम 8:00 बजे का इंतजार है पीएम मोदी आ कर किन-किन विषय पर बात करेंगे और लॉक डाउन 3 के बाद देश की स्थिति पर क्या बात करेंगे? ऐसे में झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से जब पूछा गया तो उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि पीएम मोदी मुसीबत में भी डालते हैं, माफी भी मांगते हैं यानी चित भी मेरी-पट भी मेरी,आज जो नदी की प्रवाह बदल गई है. मजदूर कितने हताश हैं. जिस पीड़ा से मेरे प्रदेश के लोग गुजर रहे हैं, वो यहां के प्रवासी ही बता सकते हैं.’

उनका सीधा निशाना पीएम के फैसलों पर था जो लॉकडाउन के  चलते लिए गए हैं। मोदी गलती भी करते हैं और खुद अपनी गलती की माफी भी मांगते हैं, उनकी वजह से लोगों को जो परेशानी होती है यह वही जानते हैं जो उसे झेलते हैं उनका सीधा इशारा मजदूरों को हो रही परेशानी से था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पलायन कर रहे मजदूरों की समस्याओं को देखते हुए समस्त देशवासियों से माफी मांगी थी. संपूर्ण देश में लॉकडाउन के कारण जिन जिन दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है उसके लिए पीएम ने सब से माफी मांगी थी। मन की बात कार्यक्रम में पीएम मोदी ने कहा था कि कुछ ऐसे निर्णय लेने पड़े हैं जिसकी वजह से आपको कई तरह की कठिनाई उठानी पड़ रही है खास तौर पर गरीब भाई बहनों को. मैं आपकी दिक्कत और परेशानी समझता हूं लेकिन आपकी जान बचाने के लिए कठोर कदम उठाने पड़े।

आज नरेंद्र मोदी ने शाम 8:00 बजे देशवासियों को संबोधित करने का ऐलान किया और झारखंड सीएम हेमंत सोरेन से उनके एलान के बारे में पूछा गया तो उन्होंने तंज कसते हुए नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। झारखंड राज्य में मरीजों की संख्या 165 पहुंच गई है मजदूर परिवार अभी भी पलायन की प्रक्रिया जारी रखें और उन्हें काफी दिक्कतों का सामना भी करना पड़ा है. आए दिन आने वाली खबरें परेशानियों का सबूत पेश करती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.