कनिका कपूर ने कहा एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग नहीं की गई थी

शिवानी रजवारिया

नई दिल्ली: बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर के कोरोना पॉजिटिव होने की खबर ने चारों तरफ हड़कम मचा दिया था और तभी से वह खबरों में बनी हुई है। फिलहाल कनिका कपूर कोरोना वायरस को मात देकर अपने घर वापस लौट आईं है। अस्पताल से घर वापस आने के बाद कनिका कपूर 14 दिनों तक क्वारंटाइन में थी। कनिका कपूर अब अपने परिवार के साथ लखनऊ में रह रही हैं। कनिका ने अपने परिवार के साथ चाय पीते हुए फोटो शेयर की है जिसे फैंस काफी पसंद कर रहे हैं और उनके स्वास्थ्य के बारे में पूछ रहे हैं। फोटो शेयर करते हुए कनिका कपूर ने कैप्शन में लिखा है, आपको बस एक अच्छी मुस्कान, दिल और गर्म चाय के कप की जरूरत है।

कनिका कपूर बॉलवुड की पहली सेलेब्रिटी है जो कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी। करीना कपूर पर यह आरोप था कि उन्होंने इस बात को छुपाया है और बिना स्क्रीनिंग के लंदन से वापस आने के बाद वह दोस्तों से लगातार मिलती रही है और पार्टियों में जाती रही है, जिसके कारण उन्होंने संक्रमण को देश में फैलाने का काम किया है। कनिका में कोरोना की पुष्टि होने पर कनिका कपूर को तुरंत लखनऊ के अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां से कनिका काफी समय के बाद कोरोना वायरस को शिकस्त देकर पूरी तरह स्वस्थ होकर वापस घर लौट आईं है।

घर वापस आये ही कनिका ने अपनी सफाई में टि्वटर हैंडल पर लिखा है, ”मुझे पता है कि मेरे बारें में कई कहानियां बनाई गई हैं। कुछ तो इस वजह से ज्यादा बढ़ी क्योंकि मैं अब तक चुप रही। मैं इसलिए चुप नहीं थी क्योंकि मैं गलत थी बल्कि मुझे पता था लोगों को गलत जानकारी दी गई। मैं बस इंतजार कर रही थी कि लोग खुद सच को समझें। मैं अपने परिवार, दोस्त और सपॉर्ट करने वालों का धन्यवाद करती हूं, जिन्होंने ऐसे वक्त में मुझे समझा। मैं उम्मीद और प्रार्थना करती हूं कि आप सभी इस टाइम में सेफ होंगे।’

कनिका कपूर ने इंस्टाग्राम पर एक लंबा चौड़ा पोस्ट किया है। कनिका ने पोस्ट में लिखा है, मैं लन्दन से लेकर मुंबई और लखनऊ तक जिन भी लोगों से मिली थी, उन में कोरोना के कोई लक्षण नहीं थे। वो सब कोरोना नेगेटिव भी पाए गए थे। मैं 10 मार्च को यूके से मुंबई आई थी। तब इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उनकी स्क्रीनिंग की गई थी। उस समय ऐसी कोई एडवाइजरी नहीं थी कि उन्हें अपने आप को क्वारनटीन करना है। 11 मार्च को मैं अपने माता-पिता से मिलने लखनऊ आई थी। उस समय एयरपोर्ट पर किसी भी तरह की स्क्रीनिंग नहीं की गई थी। मैंने 14 और 15 मार्च को अपने दोस्त के साथ एक लंच भी अटेंड किया था। 17 और 18 मार्च को मुझे कुछ लक्षण महसूस हुए जिसके बाद 19 मार्च को मैंने टेस्ट करवाया और कोरोना पॉजिटिव होने की बात सामने आई।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.