एसजेवीएन ने जीयूवीएनएल द्वारा आयोजित ई-रिवर्स ऑक्शन के माध्यम से 100 मेगावाट की विंड परियोजना हासिल की

SJVN bags 100 MW wind project through e-reverse auction conducted by GUVNLचिरौरी न्यूज

शिमला: श्री नन्द लाल शर्मा, अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक, एसजेवीएन ने अवगत करवाया कि एसजेवीएन ने गुजरात में 100 मेगावाट ग्रिड कनेक्टिड विंड विद्युत परियोजना हासिल की है। एसजेवीएन की पूर्ण स्वामित्व वाली अधीनस्थ कंपनी एसजेवीएन ग्रीन एनर्जी लिमिटेड (एसजीईएल) ने गुजरात ऊर्जा विकास निगम लिमिटेड (जीयूवीएनएल) द्वारा आयोजित ई-रिवर्स ऑक्शन (ई-आरए) के माध्यम से खुली प्रतिस्पर्धी टैरिफ बोली प्रक्रिया में भाग लिया था।

श्री नन्द लाल शर्मा ने बताया कि जीयूवीएनएल ने भारत में कहीं भी 500 मेगावाट ग्रिड कनेक्टिड विंड विद्युत संयंत्र की स्थापना के चयन हेतु अनुरोध पत्र (आरएफएस) जारी किया था। आरएफएस पर केवल चार कंपनियों ने तकनीकी और वित्तीय मानदंडों को पूरा किया। एसजीईएल ने 3.17 रुपए प्रति यूनिट की दर से खुली प्रतिस्पर्धी टैरिफ बोली प्रक्रिया के बिल्ड ओन एंड ऑपरेट (बीओओ) आधार पर 100 मेगावाट की परियोजना को हासिल किया है।

श्री शर्मा ने आगे बताया कि एसजीईएल द्वारा 100 मेगावाट की विंड परियोजना को ईपीसी अनुबंध के माध्यम से भारत में कहीं भी विकसित किया जाएगा। इस परियोजना के आबंटन के साथ, एसजेवीएन का विंड पोर्टफोलियो अब 297.6 मेगावाट हो गया है। 97.6 मेगावाट की संचयी क्षमता वाली दो परियोजनाएं प्रचालनाधीन हैं और 200 मेगावाट की क्षमता वाली शेष दो परियोजनाएं विकास की विभिन्न अवस्थाओं में है।

श्री नन्द लाल शर्मा ने कहा कि इस परियोजना के निर्माण की अनुमानित लागत 800 करोड़ रुपए है। परियोजना के कमीशनिंग होने के प्रथम वर्ष में 281 मिलियन यूनिट विद्युत उत्पादित होगी और 25 वर्षों में अनुमानित संचयी ऊर्जा उत्पादन 7025 मिलियन यूनिट होगा। इस परियोजना के कमीशनिंग होने से 344255 टन कार्बन उत्सर्जन कम होने की आशा है।

अब, एसजेवीएन का परियोजना पोर्टफोलियो 47279 मेगावाट,जिसमें 77 परियोजनाएं विकास के विभिन्न चरणों में है और वर्ष 2023-24 तक 5000 मेगावाट, 2030 तक 25,000 मेगावाट और वर्ष 2040 तक 50,000 मेगावाट क्षमता के अपने साझा विजन को प्राप्त करने के लिए अग्रसर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *