चेन्नई टेस्ट पर इंग्लैंड की पकड़ हुई मजबूत

चिरौरी न्यूज़

चेन्नई: भारत और इंग्लैंड के बीच एमए चिदंबरम स्टेडियम, चेन्नई में खेले जा रहे पहले टेस्ट का तीसरा दिन भी मेजबान इंग्लैंड के नाम रहा। भारत ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक 257 रनों पर छह विकेट गवा दिए हैं और अभी भी इंग्लैंड से 321 रन पीछे है। दिन का खेल ख़त्म होने तक वाशिंगटन सुंदर 33 और रविचंद्रन अश्विन आठ रनों पर खेल रहे थे। अब भारत की कोशिश यही होगी कि इंग्लैंड के द्वारा पहली पारी में बनाए गए विशाल रनों के नजदीक पहुंचे। रूट के दोहरे शतक की मदद से इंग्लैंड की टीम ने अपनी पहली पारी में 8 विकेट खोकर 555 रन बनाया है।

भारत की पारी में सबसे ज्यादा ऋषभ पन्त ने 91 रनों का योगदान दिया है, हालांकि वह शतक से चूक गए लेकिन चेतेश्वर पुजारा के साथ उनकी साझेदारी के कारण ही भारत कुछ हद तक मैच में बना हुआ है। पुजारा और पन्त के अलावा और कोई भी बल्लेबाज टिक कर नहीं खेल पाए। एक समय 76 रन पर भारत के 4 महत्वपूर्ण विकेट गिर गए थे। कप्तान कोहली और अजिंक्य रहाणे के आउट होने के बाद ऐसा लग रहा था कि आज ही टीम इंडिया धराशायी हो जाएगा, लेकिन पन्त ने आकर न केवल स्थिति संभाला बल्कि पुजारा के साथ शतकीय साझेदारी कर टीम को मुसीबत से भी निकालने की कोशिश की।

पन्त ने 88 गेंदों में 91 रन बनाए जिसमे उन्होंने 5 छक्के और 9 चौके जड़े। पंत के आउट होने के तरीके को देखें तो एक बार फिर उन्होंने अपना विकेट फेंका है जिसकी आलोचना उन्हें झेलनी पड़ती है। ये कोई पहला मौका नहीं है जब पन्त सेट होकर आउट हो गए। पंत के आउट होने के तरीके को देखें तो एक बार फिर उन्होंने अपना विकेट फेंका है। पंत इससे पहले ऑस्ट्रेलिया में भी नर्वस नाइनटीज का शिकार हुए थे। सिडनी टेस्ट में वो नॉथन लायन की गेंद को छक्का मारने के प्रयास में कैच दे बैठे थे और वही गलती उन्होंने चेन्नई में भी की। यहां पर भी वो वैसे ही आउट हुए। जिस प्रकार वह स्ट्रोक खेल रहे थे, इंग्लैंड के बॉलर बहुत दवाब में आ गए थे, लेकिन पन्त के आउट होते ही दवाब टीम इण्डिया पर आगयी।

इस से पहले टीम इंडिया की शुरूआत बेहद खराब रही, ओपनर बल्लेबाज रोहित और गिल जल्दी जल्दी आउड हो गये। लंच तक टीम इंडिया का स्कोर 2 विकेट के नुक्सान पर 59 हो गया। कप्तान कोहली और अजिंक्य रहाणे भी जल्दी आउट हो गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.