एक बार फिर देश के लिए खेलना चाहता हूँ: श्रीसंत

चिरौरी न्यूज़ डेस्क

नई दिल्ली: भारतीय तेज़ गेंदबाज एस श्रीसंत ने एक बार फिर टीम के लिए खेलने की इच्छा जताई है। श्रीसंत अभी तक भारतीय क्रिकेट कण्ट्रोल बोर्ड के द्वारा लगाये गए प्रतिबंद के कारण क्रिकेट से दूर रहे हैं, लेकिन उनका ये प्रतिबंध सितम्बर में समाप्त हो रहा है और श्रीसंत ने कहा है कि अगर उन्हें मौका मिला तो फिर से टीम के लिए खेल सकते हैं।

श्रीसंत ने एक अखबार से बातचीत में कहा, “मैं यहां प्रतिस्पर्धा करने के लिए नहीं हूं। मैं यहां सिर्फ खिलाड़ियों की मदद करने और उनके साथ अपना अनुभव साझा करने के लिए हूं। अगर चयनकर्ता मुझे मौका देते हैं और अगर भारत 2021 विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में खेलता है तो मैं इसमें खेलना पसंद करूंगा।”
केरल रणजी टीम के कोच ने कहा है कि श्रीसंत का चुनाव केरल की रणजी टीम में हो सकता है, बशर्ते वो अपना फिटनेस साबित करते हैं। केरल क्रिकेट संघ (केसीए) ने सितंबर में उनका प्रतिबंध समाप्त होने के बाद रणजी टीम में चयन के लिए उनके नाम पर विचार करने का फैसला किया है।
37 साल के श्रीसंत ने कहा कि उन्हें अब सफलता या असफलता से डर नहीं लगता। वो सिर्फ अपना अनुभव युवा खिलाडियों के साथ साझा करना चाहते है।

उन्होंने कहा कि, “मुझे यह अवसर प्राप्त करने का सौभाग्य मिला है। मेरे अंदर असफलता या सफलता का कोई डर नहीं है। बहुत से लोग असफलता के डर या सफलता के कारण भी प्रतिस्पर्धा नहीं करना चाहते, वे नहीं जानते कि सफलता का क्या करना है।”
बीसीसीआई ने 2013 में आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग मामले में श्रीसंत पर आजीवन प्रतिबंध लगा दिया था जिसे सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर बीसीसीआई ने कम कर के सजा को 7 साल कर दिया जो इस सितम्बर में ख़त्म हो रही है।
37 साल के श्रीसंत ने भारत के लिए अब तक 27 टेस्ट, 53 वनडे और 10 टी20 मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने क्रमश: 87, 75 और सात विकेट झटके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.