भारत पर फिर मंडरा रहा है एक और तूफान का ख़तरा 

न्यूज़ डेस्क

नई दिल्ली: साल 2020 अपदाओं के लिए जाना जाएगा। 2020 में कोरोना से पूरी दुनियां तबाह है तो भारत कोरोना के अलावा कई आपदाओं के साथ एक साथ लड़ रहा है। भारत में कोरोना से होने वाले मौत की संख्या 6500 के करीब है तो तूफ़ान से भी कई लोगों की जान जा चुकी है। कोरोना के साथ साथ भारत भूकंप, तूफ़ान और चक्रवात जैसे प्राकृतिक आपदाओं से लड़ रहा है।
हाल ही में अम्फान ने भारत के पश्चिम बंगाल और ओडिशा में तबाही मचाई थी जिससे कई जन जीवन प्रभावित हुआ था। और 86 लोगो की जान चली गयी। उसके बाद निसर्ग तूफ़ान ने महाराष्ट्र में अपना खौफ़ दिखाया था, और देश के कई इलाकों में तो भूकंप ने कितनी बार दस्तक दी है उसके क्या ही कहने।

इस समय भारत के लिए जैसे एक के बाद एक आपदाएं लाइन में लगी हुई है। कोरोना के बाद इन आपदाओं को देखकर यही लगता है की क़ुदरत इस बार भारत से रूठा हुआ है। जिसकी वजह से क़ुदरत की मार यहाँ लगातार पर रही है।
इन सभी खबरों के बीच आज एक और ख़बर सामने आयी है जिसमें एक और तूफ़ान भारत की तरफ बढ़ता नजर आ रहा है। आने वाले कुछ दिनों में ही इस तूफ़ान के भारतीय तट से टकराने की उम्मीद है। हालांकि इस बार चक्रवाती तूफ़ान की जगह यह एक डिप्रेशन में बदल जाएगा।
मौसम विभाग के मुताबिक 10-11 जून के करीब ये तूफान बंगाल की खाड़ी की तरफ से ओडिशा के तटीय क्षेत्र पर दस्तक दे सकता है। जिसके बाद मॉनसून की शुरुआत होने की उम्मीद जताई जा रही है। गौरतलब है कि इससे पहले अम्फान भी ओडिशा और पश्चिम बंगाल में ही जमकर तबाही मचाई थी। जिसमें 86 लोगो की मौत हो गयी और लाखों की संख्या में लोग बेघर हो गए थे। लेकिन अब एक और तूफ़ान आने वाले दिनों दस्तक देने वाली है। उम्मीद है कि ये तूफ़ान इतनी तबाही लेकर नही आये।
अम्फान के कुछ ही दिन बाद निसर्ग भी महाराष्ट्र के इलाकों में दस्तक तो दिया था। लेकिन ये देश के अन्य इलाको में फैलने की वजह से नुकसान नहीं पहूंचाया। फिलहाल इसकी वज़ह से अभी उत्तर प्रदेश में भारी बारिश चल रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.