पालघर के बाद बुलंदशहर में दो साधुओं की धारदार हथियारों से हत्या

न्यूज़ डेस्क

नई दिल्ली: महाराष्ट्र के पालघर में हुई दो साधुओं की हत्या की आग अभी बुझी भी नहीं थी कि अब उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर से दो साधुओं की हत्या की खबर आ गयी है. प्राप्त जानकारी के अनुसार सोमवार देर रात बुलंदशहर में दो साधुओं की धारदार हथियारों से हत्या कर दी गई है। साधुओं की हत्या से ग्रामीणों में काफी रोष है। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस बल तैनात किया गया है, और पुलिस ने साधुओं के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

जानकारी के मुताबिक बुलंदशहर के अनूपशहर कोतवाली के गांव पगोना में स्थित शिव मंदिर पर पिछले करीब 10 वर्षों से साधु जगनदास उम्र (55) वर्ष और सेवादास (35) रहते थे। दोनों साधु मंदिर में रहकर पूजा-अर्चना में लीन रहते थे। सोमवार की देर रात मंदिर परिसर में ही दोनों साधुओं की धारदार हथियारों से प्रहार कर हत्या कर दी गई। मंगलवार सुबह जब ग्रामीण मंदिर में पहुंचे तो उन्हें साधुओं के खून से लथपथ शव पड़े मिले। इसे देखकर बड़ी संख्या में ग्रामीण मंदिर पर पहुंचे और उनमें आक्रोश फैल गया।

ग्रामीणों ने इस घटना की जानकारी पुलिस को दी जिसके बाद सीओ अनूपशहर अतुल चौबे, कोतवाल मिथिलेश उपाध्याय पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए। अभी घटना के पीछे के कारणों का पता नहीं चल सका है। सीओ अनूपशहर अतुल चौबे ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल पुलिस घटना की जांच पड़ताल में जुटी है।

गौरतलब है कि बीते 17 अप्रैल को महाराष्ट्र के पालघर में  भी दो साधु और एक ड्राइवर की भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या कर दी थी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.