हॉकी कप्तान रानी का नाम खेलरत्न के लिए प्रस्तावित; वंदना, मोनिका, हरमनप्रीत अर्जुन पुरस्कार की दौड़ में

न्यूज़ डेस्क

नई दिल्ली: राजीव गाँधी खेलरत्न पुरस्कार के लिये भारतीय महिला टीम की कप्तान रानी रामपाल के नाम की अनुशंसा हॉकी इंडिया ने की है, जबकि वंदना कटारिया, मोनिका और हरमनप्रीत सिंह के नाम अर्जुन पुरस्कार के लिये भेजे गए हैं। भारत के पूर्व खिलाड़ी आर पी सिंह और तुषार खांडकर का नाम मेजर ध्यानचंद लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार के लिये और कोच बी जे करियाप्पा और रमेश पठानिया के नाम द्रोणाचार्य पुरस्कार के लिये भेजे हैं।

देश के सर्वोच्च खेल सम्मान राजीव गांधी खेलरत्न पुरस्कार के लिये एक जनवरी 2016 से 31 दिसंबर 2019 के बीच का प्रदर्शन आधार रहेगा। रानी की कप्तानी में भारत ने 2017 में महिला एशिया कप जीता और 2018 में एशियाई खेलों में रजत पदक हासिल किया था, जबकि रानी ने ओलंपिक क्वालीफायर 2019 में भारत के लिये विजयी गोल करके तोक्यो ओलंपिक में जगह बनाई थी। रानी को 2016 में अर्जुन और 2020 में पद्मश्री मिल चुका है।

भारत के लिये 200 से अधिक अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुकी वंदना और 150 से ज्यादा अंतरराष्ट्रीय मैचों में हिस्सा ले चुकी मोनिका के नाम अर्जुन पुरस्कार के लिये भेजे गए हैं। भारतीय पुरूष टीम के ड्रैग फ्लिकर हरमनप्रीत सिंह का नाम भी अर्जुन पुरस्कार के लिये भेजा गया है। उन्होंने ओलंपिक टेस्ट टूर्नामेंट 2020 में मनप्रीत सिंह की जगह कप्तानी की थी और पिछले साल ओलंपिक क्वालीफायर जीतने वाली भारतीय टीम का भी वह हिस्सा थे।

पूर्व खिलाड़ी आर पी सिंह और खांडकर के हॉकी को योगदान के लिये उनका नाम मेजर ध्यानचंद लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार के लिये भेजा गया है। वहीं करियप्पा का नाम द्रोणाचार्य पुरस्कार के लिये भेजा गया जो 2019 में जोहोर कप में रजत पदक जीतने वाली भारत की जूनियर पुरूष टीम के कोच थे ।

हॉकी इंडिया के अध्यक्ष मोहम्मद मुश्ताक अहमद ने कहा राजीव गांधी खेलरत्न पुरस्कार पाने वाले सरदार सिंह पिछले हॉकी खिलाड़ी थे। रानी ने महिला हॉकी में नयी बुलंदियों को छुआ है और वह इस सम्मान की हकदार है। खेल मंत्रालय की एक समिति विजेताओं का चयन करेगी। पुरस्कार 29 अगस्त को राष्ट्रीय खेल दिवस पर दिये जायेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.