ICC का फैसला, टेस्ट मैचों की जर्सी पर लगा सकते है स्पॉन्सरशिप लोगो

न्यूज़ डेस्क

नई दिल्ली: कोरोना महामारी के कारण सभी को नुकसान हुआ है, जिसमे दुनिया भर के बड़े बड़े स्पोर्ट्स क्लब्स भी शामिल हैं। खिलाडियों की फीस में कटौती भी की गयी है, कई सारे बड़े इंटरनेशनल फुटबॉल खिलाड़ी ने खुद अपनी फीस कम कर दी है. इस सब के वावजूद क्लब्स के लिए रेवेन्यु की भरपाई करना बहुत मुश्किल हो रही है।

अब क्रिकेट की सबसे बड़ी संस्था आईसीसी जहाँ पैसों का बोलबाला है वो भी कोरोना के कारण आर्थिक तंगी से जूझ रही है और इस से उबरने के लिए आईसीसी ने एक बड़ा फैसला लिया है। उसने कहा है कि अब टीमें टेस्ट क्रिकेट में भी फ्रंट ऑफ शर्ट स्पॉन्सर का प्रयोग कर सकती हैं। इसके मायने ये हैं कि टेस्ट क्रिकेट की सफेद जर्सी पर भी सामने बड़ा लोगो लगाया जा सकता है। आइसीसी की चीफ एग्जक्यूटिव कमेटी यानी सीईसी ने मंगलवार 9 जून को स्पॉन्सरशिप के नियमों में ढील देने का ऐलान किया है। इस मीटिंग में महामारी को लेकर कई और नियम भी बनाए गए हैं।

अगले 12 महीने तक टीमें टेस्ट क्रिकेट की शर्ट और जर्सी पर ज्यादा से ज्यादा 32 वर्ग इंच का लोगो सीने पर प्रयोग कर आमदनी को बढ़ा सकती हैं। अभी तक सिर्फ वनडे और टी20 की टीशर्ट पर ही आइसीसी ने इतना बड़ा लोगो लगाने को अनुमति दे रखी थी। हालांकि, तीन लोगो अभी भी टेस्ट क्रिकेट में पहनी जाने वाली जर्सी पर लगाए जा सकते हैं, लेकिन ये लोगो काफी छोटे होते हैं, जो दोनों बाजुओं और एक सीने के ऊपर लगाया जाता है।

आइसीसी का ये फैसला क्रिकेट बोर्ड की कमाई को बढ़ाने का जरिया है, क्योंकि कोविड 19 महामारी के कारण क्रिकेट प्लेइंग नेशंस को काफी नुकसान झेलना पड़ा है। इंग्लैंड के अखबार के मुताबिक इंग्लैंड की टीम इस नई स्पॉन्सरशिप की कमाई को देश के हेल्थ सर्विस फंड में डोनेट कर सकती है। कोरोना वायरस के बाद पहली सीरीज में इंग्लैंड की टीम को वेस्टइंडीज के खिलाफ खेलनी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.