नीतीश के आलावा बिहार में कोई चेहरा नहीं, वही हमारे कमांडर हैं: सुशील मोदी

न्यूज़ डेस्क

नई दिल्ली: राजनीति में बयानों का कई अर्थ लगाये जाते हैं, और जब चुनाव सर पर हों तो नेताओं के द्वारा दिए गए बयानों का महत्त्व और भी बढ़ जाता है। आज भारतीय जनता पार्टी के नेता और बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जमकर तारीफ़ की और कहा कि बिहार में नीतीश से बढ़कर कोई और बड़ा चेहरा नहीं है। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार ही उनके कमांडर हैं, और बीच लड़ाई में किसी कमांडर को नहीं बदला जाता है। सुशील मोदी इतने पर ही नहीं रुके और कहा कि नीतीश कुमार आज से नहीं बल्कि 15-20 सालों से कमांडर हैं।

सुशील मोदी ने कहा कि बिहार में नीतीश कुमार का काम लोगों को पसंद है, और जो लोग कोरोना के क्वॉरन्टीन सेंटर की आलोचना कर रहे थे, वहां से लोग अब जाना नहीं चाहते है।  उन्होंने कहा, “क्वॉरन्टीन सेंटर में सुविधा और खाना इतना बेहतरीन है कि लोग कह रहे हैं कि वे वहीं रहना चाहते हैं। हमारी सरकार ने बीस हज़ार करोड़ रुपये से ज़्यादा की मदद लोगों को दी गई।”

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की बिहार में रविवार को होने वाली डिजिटल रैली पर उन्होंने कहा कि उसकी पूरी तैयारी हो गई है। बता दें कि अमित शाह की डिजिटल रैली के खिलाफ राष्ट्रिय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव ने थाली पीटकर इसका विरोध करने का एलान किया है। तेजस्वी के इस प्रतिक्रिया पर सुशील मोदी ने कहा कि एनडीए के नेता साल भर पढ़ाई करते हैं और ये लोग मटरगश्ती करते हैं सिर्फ परीक्षा के समय पढ़ते हैं।

तेजस्वी द्वारा बिहार में लालूवाद का नारा देने पर मोदी ने कहा कि अब तक लेनिनवाद, मार्क्सवाद सुना था पर लालूवाद तो प्रतीक हैं अपहरण का,  जंगलराज का, लालटेन युग का जिसे बिहार के लोग कभी नहीं चाहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.