अमेरिकी कंपनी का दावा, कोरोना की दवा जल्द आएगी

न्यूज़ डेस्क

नई दिल्ली: जब से कोरोना वायरस ने दुनियां में तबाही मचाना शुरू किया है, तब से हर एक दिन इसी उम्मीद में लोगों का बीतता है कि कब इसका वैक्सीन आएगा। दुनियां भर के वैज्ञानिक पिछले कई महीनो से दिन रात मेहनत कर रहे हैं। अमेरिका जहाँ सब से ज्यादा कहर है कोरोना का, वहां तो वैक्सीन रिसर्च का राष्ट्रपति ट्रम्प हर एक दिन अपडेट लेते हैं। अब लगता है वैक्सीन का इंतज़ार खत्म होने को है, क्योंकि एक अमेरिकी कंपनी ने कोरोना वायरस के ह्यूमन ट्रायल को लेकर दावा किया है जिसके बाद उम्मीद जताई जा रही है कि जल्द इसकी दवा बाजार में आ जाएगी।

अमेरिका की फार्मा कंपनी मॉडर्ना ने दावा किया है कि कोरोना की वैक्सीन का कुल 45 लोगों पर क्लिनिकल ट्रायल या ह्यूमन ट्रायल किया है जो कि सफल रहा है। अमेरिका के सिएटल में वॉलेंटियर्स के 8 समूहों पर ये ह्यूमन ट्रायल किया। इसका परीक्षण जिन लोगों पर किया गया उनके शरीर में इस वैक्सीन के जरिए एंटीबॉडी बन रही हैं, जो वायरस के हमले से लड़ने में सक्षम साबित हो रही हैं।

मॉडर्ना ने ये भी बताया है कि ह्यूमन क्लीनिकल ट्रायल के शुरुआती नतीजे पॉजिटिव आए हैं और इसके बाद जुलाई में वैक्सीन के ट्रायल का तीसरा चरण शुरू किया जाएगा। मॉडर्ना कंपनी ने बताया कि जनवरी से वो इस प्रोजेक्ट पर रिसर्च कर रही है। इस ह्यूमन ट्रायल के लिए जिन 45 लोगों पर परीक्षण किया गया था उन्होंने दवाई के जरिए कोरोना के खिलाउ अच्छी प्रतिरोधक क्षमता को दिखाया और इसी के आधार पर कहा गया है कि वैक्सीन का इस्तेमाल मनुष्यों पर करने के लिए बिलकुल सुरक्षित है। हालांकि कुछ साइड इफेक्ट्स भी हैं इनके लेकिन कंपनी के मुताबिक ये ज्यादा गंभीर नही रहे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.