जेसिका लाल मर्डर का सजायाफ्ता मनु शर्मा रिहा, दिल्ली के उप-राज्यपाल ने सेंटेंस रिव्यू बोर्ड की सिफारिश पर लिया फैसला

न्यूज़ डेस्क

नई दिल्ली: सेंटेंस रिव्यू बोर्ड यानी सजा समीक्षा बोर्ड की सिफारिश पर दिल्ली के उप-राज्यपाल अनिल बैजल ने बहुचर्चित जेसिका लाल हत्याकांड के हत्यारे मनु शर्मा की रिहाई को मंजूरी दे दी जिसके बाद उसे रिहा कर दिया गया। जेसिका लाल हत्याकांड में आजीवन कारावास की सजा काट रहे मनु शर्मा, जो कि दिल्ली की तिहाड़ जेल में अपनी सजा काट रहा था, के अच्छे आचरण को देखते हुए सजा समीक्षा बोर्ड ने उसकी रिहाई की सिफारिश की थी। दिल्ली के गृहमंत्री सत्येंद्र जैन की अध्यक्षता में सोमवार को एसआरबी की बैठक में मनु शर्मा की रिहाई की सिफारिश की गई थी और इसे अतिम मंजूरी के लिए दिल्ली के उप-राज्यपाल अनिल बैजल को भेजा गया था। उप-राज्यपाल अनिल बैजल ने एसआरबी की सिफारिश मानकर मनु शर्मा की रिहाई को मंजूरी दे दी जिसके बाद उसे रिहा कर दिया गया।

इस से पहले भी पांच बार मनु शर्मा की रिहाई के लिए सजा समीक्षा बोर्ड ने सिफारिश की थी लेकिन उस पर उप-राज्यपाल की अंतिम मंजूरी नहीं मिल पाई थी। हालांकि जेसिका काल की बहन सबरीना लाल ने पहले ही कह दिया था कि अगर मनु शर्मा को रिहा किया जाता है तो उन्हें कोई आपत्ति नहीं है।

2006 में मनु शर्मा को जेसिका लाल की हत्या का दोषी करार दिया गया था और उसे आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई थी। मनु शर्मा पहले ही पैरोल पर बाहर चल रहा था और हाल ही में कोरोना संकट के दौरान जिन दोषियो को रिहा किया गया था उनमें से एक मनु शर्मा भी था। बता दें कि 29 अप्रैल, 1999 की रात दिल्ली के टैमरिंड कोर्ट रेस्टोरेंट में मशहूर मॉडल जेसिका लाल की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। जिसमे मनु शर्मा को आजीवन कारावास की सजा हुई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.