फ्लाइट से उतरें और करें महाकाल और ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग के दर्शन

इंदौर। इंदौर एयरपोर्ट से अब बहुत जल्द रोजाना उज्जैन और ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंगों के दर्शन के लिए लक्जरी बसें भी चलने लगेंगी, जिससे एयरपोर्ट पर उतरते ही यात्री सीधे बस से दोनों प्रमुख ज्योतिर्लिंग महाकाल और ओंकारेश्वर दर्शन के लिए जा सकेंगे। वहीं वर्तमान में एयरपोर्ट से लगभग 95 से ज्यादा फ्लाइटों का आना-जाना है। इनमें से आधी से ज्यादा आने वाली भी हैं। जिनमें सैकड़ों यात्री देश-विदेश में आते हैं, जो यहां आते ही महाकाल और ओंकारेश्वर दर्शन के लिए भी जाना चाहते हैं जिनको इन मार्गों की यात्रा के लिए पर्याप्त साधन नहीं मिलने से परेशानी होती है। इसलिए यात्रियों की सुविधा के लिए जल्द नई बसें शुरू करने की तैयारी है

दरअसल लंबे समय से बाहरी यात्रियों की ओर से ऐसी डिमांड आ रही थी, इस पर इंदौर सांसद शंकर लालवानी ने भी कहा था कि यात्रियों की सुविधा के लिए दोनों ज्योतिर्लिंग के दर्शन के लिए जल्द बसें शुरू कराएंगे, इसको लेकर उनकी पहल के बाद अब इसको लेकर प्रशासन की ओर से तैयारी भी शुरू हो गई है। बताते हैं कि दोनों मार्गों की यात्रा के लिए शुरुआत में एक एक बस शुरू होगी।

खास बात यह है कि इसमें यात्रियों से जानने के लिए जल्द एयरपोर्ट पर ही सर्वे भी शुरू होगा, जिसमें यात्रियों से पूछेंगे कि वे फ्लाइट से इंदौर उतरकर कहां जाना चाहते हैं। इनमें कितने लोकल यात्री आते हैं कितने शहर के बाहर के होते हैं? अभी कितनी डिमांड है। इस तरह से यात्रियों का सर्वे होगा।

वर्तमान में करीब 95 फ्लाइट इंदौर एयरपोर्ट से चल रही हैं, जिनमें से कुछ नई एयरलाइंस कंपनी की फ्लाइट इसी माह से शुरू हो रही है। राजस्थान के जयपुर,जोधपुर, अजमेर और किशनगढ़ जैसे बड़े शहरों को इंदौर से सीधी कनेक्टिविटी के लिए नई उड़ान सेवा शुरू होने जा रही है। इसके साथ ही उड़ानों की संख्या 100 पार हो जाएगी। वहीं आने वाले दो साल में ये संख्या 150 पार भी पहुंच सकती है।

इधर एयरपोर्ट से एरोड्रम थाना तक नई चौड़ी सड़क बनेगी। बताते हैं कि इस पर भी अमल शुरू हो गया है। बेहद जल्द सड़क का काम भी शुरू हो जाएगा। इसको लेकर सांसद लालवानी लंबे समय से प्रयासरत थे। अब जाकर मंजूरी मिली है। दरअसल वर्तमान में यह रोड बेहद ज्यादा संकरी है। एयरपोर्ट में कई वीआईपी बड़ा गणपति की तरफ से आते हैं, यह रोड संकरी तो है ही व्यवस्थति भी नहीं है। बताते हैं कि इस के लिए प्रस्ताव भी तैयार है। अगले 3 माह में बेहद जल्द काम भी शुरू हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.